26.3.09

क्या आप भी ३२ GB PENDRIVE लाये है!

मित्रो पिछले दिनों मेरे मित्र ने एक ३२ GB की Pendrive खरीदी और बहुत खुश हुआ कि इतने सस्ते में इतनी कैपसिटी की Pendrive मिल गयी ! और जिसमे पूरी की पूरी ड्राइव कॉपी कर सकते है मगर २ दिन बाद पूरी ख़ुशी काफूर हो गयी क्योकि जो नजरो को दिखाया गया था ऐसा कुछ नहीं था! एक बार उपयोग करने के बाद पता चला कि........






१> Pendrive में डाटा खराब हो जाता है बेड सेक्टर्स के कारण !

२> कुछ चित्रों को कॉपी करने पे पता चला कि ये 512 mb से ज्यादा डाटा कॉपी नहीं कर रहा है !

३> PENDRIVE फॉर्मेट करने पर भी कोई फर्क नहीं पड़ता !

४> PC cleen up भी शुरू किया और सोचा की बेड सेक्टर्स की रिकवरी हो जायेगी जैसे ही शुरू हुआ हेंग हो गया !

५> PENDRIVE खोलने पर पता चला कि PCB बहुत ही ख़राब स्थिति में था !

६> सिर्फ 512 रेम चिप ही थी PCB में !

और सिर्फ ऐसा वो ही नहीं है जिसने ऐसी परेशानी झेली है और भी कई लोग है जो इस के चक्कर में आकर ठगे गए है !
हम इसकी शिकायत भी किसी से नहीं कर सकते है और न ही किंग्स्टन कंपनी इसके लिए कोई जिम्मेदारी लेगी ! तो कृपया आप ऐसे ठगों से सावधान रहे!

4 comments:

नरेश सिह राठौङ said...

बहुत अच्छी जानकारी प्रदान की है । मैने भी एसी ही पेन ड्राइव देखी है जो २०० रू मे बेचते है । इस प्रकार कि PENDRIVE मे सौ मे से नबे खराब आती है । जो सही आती है वह भी कितने दिन सही काम करेगी यह भगवान ही जानता है । कोई भी दुकानदार बेचना नही चाहता है । केवल फुटपाथ पर ही बिक्री होती है ।

अविनाश वाचस्पति said...

मैं 64 जी बी की पेनड्राइव लाया था और वो एक साल से अभी तक ठीक चल रही है। उनकी सेल 1 अप्रैल को नेहरू प्‍लेस में लगेगी, इच्‍छुक पेनड्राइव टावर में पहुंचें।

Abhishek said...

ब्लॉग का टाइटल सही कर लें, 'तकनीकी' सही शब्द है।

sanjay vyas said...

बढ़िया जानकारी. मैंने दिल्ली में ५०० जी बी लिखा पेन ड्राइव भी देखा है!

Post a Comment

©2008-09 TECHNODHABA:आपका तकनीकी मित्र......
सर्वाधिकार असुरक्षित by TECHNNODHABA

सीखो बहुत कुछ Powered by Blogger